छत्तीसगढ़

वीएसएसएस ने किया बिलासपुरवासियो का हेल्थ चेकअप इमलीभांठा बंधवापारा के निशुल्क स्वास्थ्य शिविर में मिले 80% चर्मरोगी

By: हरिमोहन तिवारी
2019-04-29 08:54:15 PM
0
Share on:

वीएसएसएस ने किया बिलासपुरवासियो का हेल्थ चेकअप

इमलीभांठा बंधवापारा के निशुल्क स्वास्थ्य शिविर में मिले 80% चर्मरोगी

रायपुर. विप्र स्वास्थ्य सेवा सँगठन ने विगत रविवार 28 अप्रेल को बिलासपुर के इमलीभांठा, बंधवापारा स्थित इंदिराविहार की झुग्गी बस्ती में एकदिवसीय निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया सँगठन के रायपुर स्थित प्रदेश कार्यालय 'विमलकुंज' से जारी की गई विज्ञप्ति के अनुसार सँगठन द्वारा इन दिनों मौसमी बीमारियों चिकनपॉक्स और स्वाइन फ्लू के खिलाफ मुहिम चलाई गई है। प्रदेश के विभिन्न स्थानों में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन करते हुए ग्रामीणों और झुग्गीवासियों को एंटीवायरल होमियोपैथिक दवाएं वितरित की जाती हैं। इसी परिपेक्ष में बिलासपुर शहर के मध्य सरकंडा के इमलीभांठा बंधवापारा स्थित घनी झुग्गिबस्ती इंदिरा विहार में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान सँगठन के चिकित्सकों ने  बस्तीवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया, जिसमे लगभग 80% लोगों में चर्मरोग की शिकायतें मिली, जिनका निराकरण करते हुए दवाइयां वितरित की गई। शिविर के दौरान विप्र स्वास्थ्यसेवा सँगठन के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश दीवान, दुर्ग से डेंटिस्ट डॉ वीरेंद्र दीवान (प्रोफेसर रूंगटा डेंटल कॉलेज भिलाई), डॉ स्वप्निल दुबे (बिलासपुर), डॉ विनोद दीक्षित (प्रोफेसर, होमियोपैथिक कॉलेज, बिलासपुर) ने अपनी चिकित्सा सेवाएं दीं। इस दौरान बस्तीवासियों का रक्त परीक्षण, सुगर जांच निशुल्क रूप से की गई तथा स्वाइन फ्लू व चिकनपॉक्स की एंटीवायरल दवाइयों का वितरण किया गया। आयोजन के अंत मे सँगठन अध्यक्ष डॉ सतीश दीवान ने शिविर से निकले निष्कर्ष पर कहा कि बस्ती के 80% लोगो मे चर्म रोग फैलना इस क्षेत्र की जल एवं वायु प्रदूषण को इंगित करता है। यदि प्रशासन द्वारा इसका शीघ्र निराकरण नही किया जाता तो भविष्य में चिंतनीय स्थिति बन सकती है। इसमें बस्ती के निवासियों को स्वयम ही स्वच्छ्ता करनी होगी। डॉ दीवान ने शिविर में निस्वार्थ सेवा देने के लिए चिकित्सको एवम कार्यकर्ताओ को धन्यवाद दिया और वीएसएसएस की ओर से आभार प्रकट किया।
  आयोजन के दौरान भाटापारा से शासकीय सेवानिवृत्त अध्यापिका, सुप्रख्यात साहित्यकार व लेखिका तथा विप्र स्वास्थ्यसेवा सँगठन की फाउंडर श्रीमती शारदा गौराहा विशेष रूप से उपस्थित रहते हुए शिविर में उन्होंने अपना सक्रिय योगदान दिया। साथ मे सर्वश्रीमती सीमा दीवान, दीपा कोंनहार, दीप्ति दुबे, विनीता पांडे, योगेश बबिता पाटनवार, अनिता साहू, कु सोनम पाटनवार, श्री प्रताप धर शर्मा, चित्रकान्त पांडे, राजेश दुबे (स्वास्थ्य विभाग, बिलासपुर),  मो अफ़ज़ल रज़ा के साथ शिव मंदिर एकता समिति के सदस्यों ने सफल आयोजन में अपनी सक्रिय भूमिका निभाई।



संबधित खबरें