छत्तीसगढ़

नदी पर पुल नहीं बना तो चुनाव का बहिष्कार, 12 गांवों के मतदाताओं का चुनाव के बहिष्कार का ऐलान

By: हरिमोहन तिवारी
2019-04-08 04:43:55 PM
0
Share on:

नदी पर पुल नहीं बना तो चुनाव का बहिष्कार, 12 गांवों के मतदाताओं का चुनाव के बहिष्कार का ऐलान

गरियाबंद जिले के देवभोग के तेलनदी में सेनमुड़ा पर वर्षों से पुल बनाने की मांग कर रहे ग्रामीणों का गुस्सा एक बार फिर फूट पड़ा है। पुल निर्माण नहीं होने से नाराज 11 गांवों के ग्रामीणों ने लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का ऐलान कर दिया है। ग्रामीणों का कहना है कि पुल नहीं तो पोलिंग नहीं। अपनी मांगों के समर्थन में ग्रामीण का प्रतिनिधि मंडल सोमवार को एक ज्ञापन भी एसडीएम को सौंपेगा। 

दरअसल, ग्रामीणों ने विधानसभा चुनाव से पहले भी इसी मांग को लेकर चुनाव बहिष्कार का निर्णय लिया था। उस दौरान भी राजनीतिक दल और प्रशासन की ओर से से चुनाव खत्म होने के बाद काम शुरू होने का आश्वाशन दिया गया। जिससे सभी ग्रामीण मान गए और विरोध वापस ले लिया। काम अभी तक शुरू नहीं होने से ग्रामीणों का पनप रहा आक्रोश एक बार फिर बाहर निकल आया है और उन्होंने लोकसभा चुनाव के बहिष्कार का ऐलान कर दिया। 

पुल की मांग को लेकर चुनाव का बहिष्कार कर रहे गांवों में सेनमूड़ा, खोकसरा, मोटरापारा, सगौनभाड़ी, ठीरलीगुडा, झीरिपानी, निष्टीगुड़ा, फुलीमुडा, खम्हारगुड़ा के ग्रामीण शामिल हैं। इनमें करीब 350 से ज्यादा मतदाता हैं। इन सभी गांवों के 20 लोगों का प्रतिनिधि मंडल सोमवार को एसडीएम को ज्ञापन देंगे। ग्रामीणों का कहना है कि चुनाव आचार संहिता के चलते वे शांतिपूर्ण ढंग से अपनी बात रखेंगे।



संबधित खबरें