बड़ी ख़बर

महासमुंद: सीएम प्रोग्राम में विरोध न हो इसलिए पुलिस ने सैकड़ों कांग्रेसियों को किया नजर बन्द

By: डीएनए न्यूज़
2018-10-01 12:30:13 AM
0
Share on:

  • बीजेपी सरकार के रमन सिंह और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर की नारेबाज़ी

महासमुंद: अटल विकास यात्रा पर बसना पहुंचे मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की सभा में अशांति की आशंका के चलते पुलिस ने कांग्रेस और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) के नेताओं को जगह-जगह नजरबंद कर दोपहर बाद छोड़ा। 

दरअसल, आज रमनसिंह के बसना आगमन पर जिला कांग्रेस महासमुंद के जिलाध्यक्ष आलोक चन्द्राकर एवं पूर्व मंत्री एवं पूर्व विधायक राजा देवेन्द्र बहादुर सिंह के नेतृत्व मे काला झण्डा दिखाने सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता निकले थे वहीं पुलिस ने रास्ते मे रोक कर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर अस्थायी जेल मे बंद कर दिया।  जिन्हें मुख्यमंत्री के जाने के बाद रिहा किया गया।

इधर महासमुंद से युवा नेता अमन चंद्राकर, जसमीत सिंह मक्कड़ बादल और उनके साथियों को पुलिस ने घंटों सिटी कोतवाली में बैठाए रखा । ये युवा नेता कथित तौर पर मुख्यमंत्री को काला झंडा दिखाने के लिए बसना जाने की तैयारी में थे, तभी पुलिस ने हिरासत में ले लिया। थाना में घंटों बैठाने के बाद मुख्यमंत्री के बसना से रवाना होने के बाद नि:शर्त रिहा भी कर दिया। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस नेत्री अनामिका पाल को भी बसना थाना में घंटों नजरबंद किए जाने की खबर है। 

वहीं सुबह करीब साढ़े 10 बजे पिथौरा से बसना जाने निकले पिथौरा युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने एनएच-53 पर टेका के पास धर दबोचा। हाथों में काला पट्टी लिए और काला टी शर्ट पहने इन युवाओं को पुलिस ने बसना नहीं पहुंचने दिया। सड़क पर लेट जाने के बावजूद पुलिस ने बलपूर्वक सभी को नजरबंद कर दिया। प्रदर्शन करने वाले युवा कांग्रेस नेताओं में प्रदेश सचिव जितेंद्र सिन्हा, सुमित सिंघल, विकास शर्मा,  विक्की गुप्ता, असफाक खान, ओम सिन्हा, सागर, कौशल, रमेश निषाद आदि प्रमुख रूप से शामिल हैं। बागबाहरा और कोमाखान में भी कुछ कांग्रेसियों को पुलिस के द्वारा नजरबंद किए जाने की खबर है।



संबधित खबरें