छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने  प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन को झूठ का पुलिंदा बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उम्मीद थी कि मेरे 19 सवाल का जवाब मिलेगा

By: हरिमोहन तिवारी
2019-04-06 10:32:31 PM
0
Share on:

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन को झूठ का पुलिंदा बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उम्मीद थी कि मेरे 19 सवाल का जवाब मिलेगा

आरोप लगाया कि मोदी जी को ना तो इंसान और ना ही इंसानियत से कोई लेना देना है। PM मोदी ने भाषण में सिर्फ झूठ और झूठ ही बोले।


रायपुर - प्रदेश की सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरोपों पर करारा तंज जवाब दिया। बालोद दौरे के दौरान प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन को झूठ का पुलिंदा बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उम्मीद थी कि मेरे 19 सवाल का जवाब मिलेगा? वो रिपोर्ट कार्ड लेकर आयेंगे…लेकिन वो रिपोर्ट कार्ड लेकर नहीं आये। उन्होंने 35 मिनट का भाषण दिया। इस दौरान उनका माइक खराब हो गया। मतलब माइक भी झूठ बर्दाश्त नहीं कर पाया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने लिये चुनाव लड़ रही है, जबकि कांग्रेस पार्टी ने अभी तक सिर्फ और सिर्फ देश के लिए ही काम किया है। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि मोदी जी को ना तो इंसान और ना ही इंसानियत से कोई लेना देना है। PM मोदी ने भाषण में सिर्फ झूठ और झूठ ही बोले।

मुख्यमंत्री ने पूर्व कि बीजेपी सरकार पर भी हमला करते हुए कहा कि…. BJP सरकार ने क्यों नहीं कर्जमाफी की। उनके कार्यकाल में सिर्फ 2500 किसानों का कर्ज माफ हुआ, हमने 20 हज़ार किसानों का ऋण माफ किया। भूपेश बघेल ने कटाक्ष करते हुए कहा कि  लगता है यहां BJP के नेताओं ने मोदी जी को होमवर्क पूरा नहीं कराया था।

वहीं भ्रष्टाचार को लेकर उठाये सवाल पर मुख्यमंत्री ने तीखा वार किया, उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को ंमुद्दे पर प्रधानमंत्री ना ही बोले तो अच्छा है…यहां उनकी रमन सरकार क्या करती थी, क्या उन्हें मालूम नहीं है ?…यहाँ उनकी सरकार सिर्फ और सिर्फ कमीशन के लिए काम करती थी।

वहीं स्वास्थ्य लेकर जो प्रधानमंत्री ने सवाल उठाया, उसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के बारे में चर्चा होते ही डॉ रमन के चेहरे उड़ जाते है, उनके रोंगटे खड़े हो जाते है। उनके दामाद पुनीत गुप्ता फरार हैं। जहां तक अस्पताल में सुविधाओं का सवाल है तो उनके कार्यकाल में 1155 अस्पताल में 89422 क्लेम किया गया था बीमा योजना में, जिनकी कुल राशि 60 करोड़ 20 लाख रुपये थी। सरकार आने के बाद 1270 अस्पताल में 2 लाख 47801मरीजो का इलाज हुआ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने केरोसिन का कोटा बढ़ाने के लिए पत्र भेजा था, लेकिन उसका कोई जवाब नहीं आया। यहां उज्ज्वला योजना के तहत एक गैस देते ही उनका केरोसिन का कोटा काट दिया जाता है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भ्रष्टाचार और ट्रांसफर पोस्टिंग के मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री मोदी को घेरा। उन्होंने कहा कि..मैंने विधानसभा में ट्रांसफर पोस्टिंग के मामले में इसका जवाब दिया था। रमन सिंह ने कहा था कि ट्रांसफर-पोस्टिंग का उद्योग चल रहा है. उस वक्त भी  मैने कहा था कि यहां 68 लोगों की सरकार है। सभी ने मिलकर ट्रांसफर किया है। आपके जैसा नहीं कि CM और सुपर CM ही मिलकर ट्रांसफर करते थे। रमन सिंह के कार्यकाल में तो अधिकारियों का टारगेट दिया जाता था। उनके जाने के बाद अधिकारी राहत की सांस ले रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने पीएम की सभा में सुर में सुर मिलाने वाली भीड़ को पेड़ वर्कर बताया…उन्होंने कहा कि जो आज पूरे संबोधन में हां में हां मिला रहे थे PM के संबोधन में। आज PM मोदी ने संबोधन में सेना और सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र किया है। हम इसकी शिकायत चुनाव आयोग में करेंगे। लोकसभा में 300 से ज्यादा सीटें हमारी आएगी। मुख्यमंत्री ने स्टार प्रचारक को लेकर कहा कि पहले चरण में कोई स्टार प्रचारक प्रदेश में नहीं आएंगे।



संबधित खबरें