छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी से  सम्मानपूर्वक पूंछा, आपने जो राजनीति को रोजगार के माध्यम के लिये चुना है,उस पर मेहनत करगें या   शॉर्टकट तरीका अपनाएगें 

By: हरिमोहन तिवारी
2019-04-06 03:01:28 PM
0
Share on:

छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी से  सम्मानपूर्वक पूंछा, आपने जो राजनीति को रोजगार के माध्यम के लिये चुना है,उस पर मेहनत करगें या 
 शॉर्टकट तरीका अपनाएगें 


रायपुर, छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने पूर्व कलेक्टर ओ पी चौधरी को पत्र लिख कर सम्मानपूर्वक  जवाब मांगा  है।

प्रिय ओपी भैया सादर प्रणाम,

आप का वक्तव्य कल पढ़कर मैं सोच में पड़ गया यह क्या आप वही ओपी हो जिसे मैं जानता हूं जिसे छत्तीसगढ़ जानता है।आप एक उच्च अधिकारी रहे हो मैं आपके ऊपर कोई व्यक्तिगत आक्षेप ना करते हुये आपके द्वारा भाजपा की रमन सरकार में किये गये कार्यो की बात करूंगा।आप ने कहा था कि आप साधारण व्यक्ति है पर पूर्ववर्ती रमन सरकार के अधिकारियों की संपत्ति विवरण अगर निकालते हैं तो मेरा विश्वास करो ओपी भैया कोई भी साधारण प्रतीत नहीं होता है।और आप की जानकारी में भी होगा कि भाजपा सरकार ने भ्रष्ट अधिकारियों की सूची भी बनायी थी जो देश और प्रदेश के समाचार पत्रों ने नाम सहित छपा भी था।इन पर आर्थिक अनियमितता,भ्रष्टाचार और भाजपा सरकार का पसंदीदा कमीशनखोरी करने के पुख्ता और गंभीर आरोप भी लगा हुवा है,इन्ही अधिकारियों ने छत्तीसगढ़ महतारी को लूट कर करोड़ो-अरबो रुपया कमाया है।
खैर ओपी भैया आपने कहा कि आप छोटे से गांव के हैं,पर आप की ही भाजपा सरकार ने गांव को भी धोखा दिया है।आप न छत्तीसगढ़ सरकार की सेवा 15 साल में तकरीबन 10 सालो तक कि उस समय ही पूरे देश में सबसे ज्यादा गरीब और झुग्गियों में रहने वालों की संख्या इसी प्रदेश की रही आपके आदर्श डॉ रमन सिंह ने इस प्रतिशत को 40% तक पहुंचाया और आपके आदर्श श्री नरेंद्र मोदी ने इसे 50% से अधिक बताया था।ये 15 सालों में छत्तीसगढ़ महतारी की है पीड़ा है,पर ओपी भैया ना जाने क्यों आपको दिखाई नहीं दी।
खैर ओपी भैया आपने कहा कि आपको अनुभव कम है पर मैं जिस ओपी चौधरी को जानता हूं जिसने शिक्षाकर्मियों को आंदोलन को समाप्त करने के लिये देर रात रायपुर सेंट्रल जेल पहुँचे।दंतेवाड़ा में बड़ी-बड़ी बिल्डिंगे सीएसआर फंड से बनाई है।आप तो वही ओपी चौधरी हो जिन्होंने रायपुर में नालंदा परिसर भी बनाया और गजब संयोग तो देखिये की निर्माणकर्ता ठेकेदार भी एक ही है जो बस्तर से रायपुर तक साथ रहे।
खैर ओपी भैया आप कहते हैं कि आपको अनुभव कम है अरे मुझे लगा की कमीशनखोर रमन सरकार में रहते रहते हैं सारे अनुभव सिखा दिया गया होगा,इस पर मैं ज्यादा नहीं बोलूंगा वरना यह व्यक्तिगत हो जाएगा पर मैं बोलूंगा नहीं।
मैं जानना चाहता हूं कि ओपी भैया आप राजनीति में आगे बढ़ाने के लिए मेहनत कर रहे हो या कोई शॉर्टकट के जुगाड़ में तो नही हो खैर हमारी शुभकामनाएं हैं और आप से उम्मीद है कि आपने जो राजनीति को रोजगार के माध्यम के लिये चुना है,उस पर मेहनत कर सफलता प्राप्त करेंगे ना कि कोई शॉर्टकट का उपयोग करेंगे। मैं आपकी काबिलियत को देखते हुए कह सकता हूं कि आप राजनीति करने के लिए कोई भी शॉर्टकट नहीं अपनाएंगे।पुनःआपके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाओं सहित।

आपका छोटा भाई विकास तिवारी



संबधित खबरें