छत्तीसगढ़

मरार समाज ने भी मृत्यु भोज में मीठा पर लगाया प्रतिबंध, प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं का किया सम्मान  

By: देव पटेल। पिथौरा
2019-03-09 07:40:54 PM
0
Share on:

  • सिरपुर में हुआ मरार समाज द्वारा प्रतिभाशाली छात्र-छात्रों का सम्मान समारोह  

पिथौरा। मरार समाज द्वारा देव स्थल सिरपुर में दो दिवसीय वार्षिक सम्मेलन का आयोजन किया गया। उक्त सम्मेलन में प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी महात्मा ज्योतिबा फूले युवा  प्रतिभा विकास मंच पिथौरा के द्वारा सत्र 2017-18 में 10 वी एवं 12 वी में 60 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित करने वाले प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र व पुरुस्कार देकर सम्मानित किया गया।

साथ ही समाज के द्वारा समाज के लोगों को शिक्छा के छेत्र में विशेष ध्यान देने और समाज के बेटीयों को पढाने के लिए प्रेरित किया गया । जिसकी काफी सराहना हुई । समाज के द्वारा युवक युवती परिचय सम्मेलन का भी आयोजन किया गया । मरार समाज द्वारा दिनांक 15 अप्रैल 2012 से महात्मा ज्योतिभा फूले विकास मंच का गठन किया गया है जिसमें प्रति वर्ष कार्यक्रम आयोजित कर समाज के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं का सम्मान और शिक्षा के लिए आगे बढने हेतु प्रेरित किया जाता है।

समाज की बैठक में स्वच्छता को लेकर विशेष बातचीत किया गया । वहां उपस्थित समाजिक जनों ने अपने ग्राम अपने शहर अपने घर को स्वच्छ बनाये रखने का संकल्प किया। और साथ ही समाज में चले आ रहे मृत्यु भोज में मीठा पर प्रतिबंध लगाना सुनिश्चित किया ।  ज्योतिबा फूले मंच के अध्यक्ष श्री  राधेश्याम पटेल गड़बेड़ा ने मंच के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि समाज मे शिक्षा, उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए   युवा साथियों द्वारा ज्योतिभा फुले विकास मंच का गठन किया गया है।

समाज में शिक्षा को बढावा देने किसी भी असक्षम परिवार के छात्रों का शिक्षा में सहयोग करने के लिए विकास मंच द्वारा प्रति वर्ष विविध आयोजन किये जाते हैं और छात्र-छात्राओं का सम्मान करने का उद्देश्य पढाई के क्षेत्र में उनका उत्साह बढाना जिसके फलस्वरूप वर्ष में अलग अलग स्थानों में छात्र छात्राओं के लिए  मार्गदर्शन शिविर, सम्मान समारोह का आयोजन किया जाता रहा है। जिससे समाज के लोगों का रुझान भी अपने बच्चों में  शिक्षा के प्रति बढ़ा है।

इस आयोजन मरार समाज प्रांताध्यक्ष श्री कन्हैया लाल पटेल, महासचिव श्री बी आर पटेल मंच के युवा पदाधिकारी विश्वनाथ पटेल,अनिल पटेल,शोभा पटेल, भजो पटेल, भनत राम पटेल,घनश्याम पटेल तथा बड़ी संख्या में  सामाजिक जन, मातृ शक्ति और सम्मानित छात्र छात्राएँ उपस्थित हुए ।



संबधित खबरें