राजनीति

लोकसभा चुनाव में आशीष कर्मा की नियुक्ति को मुद्दा  बना सकती है विपक्ष 

By: डीएनए न्यूज़। छत्तीसगढ़
2019-03-05 02:04:58 PM
0
Share on:

 

  • इन दिनों सोशल मीडिया धीरे धीरे राजनीतिक रंग लेता जा रहा है।

रायपुर। राजधानी से लेकर पूरे प्रदेश को शहादत में झंझौर करके रख देना वाला सबसे बडी झीरम नक्सल वारदात मे शहीद हुए महेंद्र कर्मा के पुत्र आशीष कर्मा को विशेषाधिकार के तहत डिप्टी कलेक्टर के पद पर नियुक्त करने का मामला धीरे धीरे राजनीतिक रंग लेता जा रहा है। हालांकि भाजपा खुलकर तो इसके खिलाफ नहीं बोल रही लेकिन भाजपा के रामम विंग सोशल मीडिया में विरोध में सक्रिय हो गए हैं। जिस तरह से इसे तूल दिया जा रहा है इससे लगता है कि आने वाले दिनों में भाजपा इसे मुद्दा बना सकती है।

झीरम घाटी में शहीद हुए कांग्रेस के कद्दावर नेता महेंद्र कर्मा के बेटे को सरकार ने ऐतिहासिक फैसला बताकर सीधे डिप्टी कलेक्टर बना दिया कि हलकों में इसका स्वागत भी किया गया लेकिन भाजपा से जुड़े कई विंग इसके विरोध में सोशल मीडिया में मुखर हो गए। भाजपा के एक नेता ने कहा कि उन्हें किसी आयोग का अध्यक्ष या हाउसिंग बोर्ड का डायरेक्टर बना दो तो हमें कोई दिक्कत नहीं है लेकिन किसी को डायरेक्ट डिप्टी कलेक्टर बनाना बेरोजगारों का अपमान है। हालांकि भाजपा अभी तक खुलकर विरोध करने का साहस नहीं जुटा पा रही है लेकिन सोशल मीडिया में इस बात का लोग विरोध कर रहे हैं।

झीरम घाटी की घटना के बाद डॉ रमन सिंह की सीकर ने भी शहीद के परिजनों को अनुकम्पा नियुक्ति के लिए पत्र दिया था लेकिन उन्हें चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी का पद देने की पेशकश की गई थी जिसे लगभग सभी परिवारों ने ठुकरा दिया था। तत्कालीन सरकार की इस पेशकश के लिए निंदा भी की गई थी लेकिन अब कांग्रेस सरकार ने अचानक निर्णय लेकर आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर बना दिया। सरकार के इस निर्णय के खिलाफ एक व्यक्ति द्वारा हाइकोर्ट का भी दरवाजा खटखटाए जाने की खबर है।



संबधित खबरें