छत्तीसगढ़

चखना दुकान का संचालक ही निकला हत्यारा, बालोंद शराब दुकान के पास हुई थी हत्या

By: Hari mohan tiwari
2019-02-25 07:36:36 PM
0
Share on:

  • बालोद शराब दुकान के पास हुई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने महज 24 घँटे में सुलझाया, चखना दुकान का संचालक ही निकला हत्यारा

रायपुर/बालोद। रविवार को जिला मुख्यालय के तांदुला के समीप बने शराब दुकान के समीप हुई हत्या की गुत्थी को बालोद पुलिस ने महज 24 घँटे में सुलझा लिया। आरोपी कोई और नही चखना दुकान का संचालक ही निकला जिसे पुलिस ने शक के दायरे में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। जिसका खुलासा एसपी एमएल कोटवानी ने सोमवार को कंट्रोल रूम में आयोजित प्रेस वार्ता में किया।

एसपी एमएल कोटवानी ने बताया कि रविवार 24 फरवरी को शराब दुकान के पास एक युवक खून से लथपथ वहां पर पड़े होने की सूचना पर थाना बालोद के स्टाफ मौके पर पहुच 108 की मदद से जिला अस्पताल लाया गया। जिसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जिसपर थाना बालोद में अपराध क्रमांक- 88/2019, धारा-302 एसटीसी एक्ट 3(2)(V) दर्ज कर विवेचना में लिया गया। मृतक की पहचान गांधी कुमार भुआर्य के नाम से हुई।

जो नगर के ही सिचाई कालोनी में रहता था। एसपी श्री कोटवानी ने आगे बताया कि मामले को गंभीरता से देखते हुए टीम बनाकर हत्या की गुत्थी सुलझाने तथा अज्ञात आरोपी के पतासाजी हेतु निर्दर्शित किया। जिस पर टीम ने शराब दुकान के आसपास लोगों से पूछताछ की। तभी जिस चखना दुकान के पास मृतक की लाश मिली थी पुलिस की टीम ने वहां जांच की तो देखा कि जमीन पर खून पड़ा हुआ है और खून से रंगा एक चाकू भी बरामद किया गया।

उक्त पाए गए सबूतों के आधार पर पुलिस की टीम ने चखना दुकान के संचालक मनीष सोनी उर्फ गुड्डा निवासी आमापारा, बालोद को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। पुलिस की टीम द्वारा मनीष सोनी से कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि मृतक गांधी कुमार भुआर्य बहुत शराब पिया हुआ था। वारदात के कुछ देर पहले आरोपी मनीष सोनी ने मृतक के घर पर फोन किया था। जिससे मृतक भड़क गया और आरोपी के साथ मारपीट व गाली गलौच करने लगा। जिससे आवेश में आकर आरोपी मनीष सोनी उर्फ गुड्डा ने मृतक के गर्दन पर तेज धारदार चाकू से 2 बार वार किया। जिससे मृतक गांधी कुमार भुआर्य की मौत हुई।

उक्त प्रकरण पर आरोपी मनीष सोनी उर्फ गुड्डा निवासी आमापारा बालोद को आज सोमवार को विधिवत गिरफ्तार किया गया। उक्त हत्या की गुत्थी को सुलझाने में थाना प्रभारी बालोद रामकिंकर यादव, विशेष टीम प्रभारी निरीक्षक कुमार गौरव साहू, प्रधान आरक्षक राम प्रसाद गजभिये, आरक्षक दुर्योधन यादव, योगेश सिन्हा, संदीप यादव, राजेंश पांडे, लवण राजपूत का सराहनीय योगदान रहा



संबधित खबरें