छत्तीसगढ़

अब खदानों की निगरानी तीसरी ऑख से सरकार का बड़ा कदम रेत की कालाबाजारी में लगेगा रोक

By: Harimohan tiwari
2019-02-25 07:32:13 PM
0
Share on:

रायपुर :- रेत की अवैध माइनिंग पर भूपेश सरकार ने एक और बड़ा सख्त कदम उठाया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस घोषणा की है कि रेत के अवैध खनन और परिवहन पर रोक लगाने के लिए अब घाटों में सीसीटीवी कैमरे लगाये जायेंगे, लेकिन रेत माफियाओं पर नजर रखी जा सके। इससे पहले उन्होंने रेत खनन को पंचायत के हाथों से लेकर सीएमडीसी के हाथों में देने का भी ऐलान किया था।

जोगी कांग्रेस के प्रमोद शर्मा ने सदन में रेत के अवैध उत्खनन को रोकने के लिए सरकार के प्रयासों के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि सरकार को ऐसा प्रावधान किया जाना चाहिये, कि पंचायतों का हित बरकरार रहे। जिसके बाद जोगी कांग्रेस के विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि रेत माफिया छत्तीसगढ़ में काफी पावरफुल हैं, जैसे ही पंचायत से सीएमडीसी के हाथों में रेत उत्खनन की जिम्मेदारी दी गयी है, वो अपने-अपने घाट छांटकर रख लिये हैं। गैंगवार की स्थिति उत्पन्न होती है। इन माफियाओं पर लगाम लगाने के लिए सरकार को प्रयास करना चाहिये।

जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने फैसला लिया है कि रेत खदानों में सीसीटीवी लगायी जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये भी कोशिश की जायेगी की रेत की कीमत नहीं बढ़े। लोडिंग में रिवर्स बिडिंग किया जाएगा. इससे दाम नहीं बढ़ेगा.



संबधित खबरें