क्राइम ख़बर

सिद्धार्थ चौक की दुकान से 76 लाख की जेवर चोरी में ओड़िशा का गिरोह, माल के साथ तीन गिरफ्तार

By:
2019-02-11 04:59:14 PM
0
Share on: dna

सिद्धार्थ चौक के छत्तीसगढ़ ज्वेलर्स में सेंध लगाकर की गई 76 लाख रुपए के जेवरों की सनसनीखेज चोरी में पुलिस ने ओड़िशा के युवकों के गिरोह के शामिल रहने का भंडाफोड़ किया है। रविवार को दोपहर ओड़िशा के एक शहर में पुलिस ने छापा मारकर वहां से तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरोह से पुलिस ने चुराए गए कुछ जेवर भी बरामद कर लिए हैं। इस वारदात का मास्टरमाइंड भी ओड़िशा का ही है, जो कुछ साल से रायपुर में रह रहा है। इसके अलावा गिरोह में ओड़िशा के ही दो-तीन और युवकों के शामिल रहने के संकेत मिले हैं। 

गिरोह ने पहले छत्तीसगढ़ ज्वेलर्स की करीब तीन  दिन तक रेकी की। उसके बाद वारदात की रात 2.30-3.30 बजे के बीच आरोपी दुकान के पीछे वाले चैनल गेट का ताला तोड़कर भीतर घुसे। वहां एक शटर था, जिसका ताला काटा और उसे आसानी से उठा लिया। दुकान में घुसने के बाद आरोपियों ने 25 मिनट में सारे जेवर समेट लिए और भाग निकले। चोरी के बाद सभी अपने घर चले गए। सुबह सबने अलग-अलग शहर छोड़ा और ओड़िशा चले गए। पुलिस को जांच के दौरान सिर्फ उनका सीसीटीवी फुटेज मिला था।

चोरी की इस वारदात से शहर में हड़कंप मच गया था, क्योंकि इस चोरी के कुछ घंटे पहले एक सराफा कारोबारी पर फायर करके 20 लाख रुपए के जेवर लूटे गए थे। यही वजह थी कि अफसरों ने थाने के साथ-साथ क्राइम ब्रांच के पुराने स्टॉफ को भी जांच में लगा दिया। जांच सीएसपी कृष्णा पटेल के नेतृत्व में शुरू की गई। पुराने अपराधियों से पूछताछ हुई, मुखबिर भी लगाए गए। तकनीकी जांच में चोरों का कोई क्लू नहीं मिला। इस बीच एक सूचना पर पुलिस ने एक संदेही युवक को हिरासत में लिया और पूछताछ की। उसने मुंह नहीं खोला। पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया और नजर रखी गई। संदिग्ध गतिविधियों और कॉल्स की वजह से वह  वह पुलिस के पुख्ता संदेह में आ गया। दोबारा उसे हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने पूरी वारदात कबूल कर ली। उसी की निशानदेही पर पुलिस ने ओड़िशा में छापा मारा और चोरी में शामिल युवक एक-एक कर पकड़े गए।



संबधित खबरें