बड़ी ख़बर

*जिले के फर्जी पुलिस अधिकारी शोभराज गिरफ्तार महिलाओं को फंसाता था प्रेमजाल में*

By: *हरिमोहन तिवारी
2019-01-17 12:57:59 PM
0
Share on:

*जिले के फर्जी पुलिस अधिकारी शोभराज गिरफ्तार महिलाओं को फंसाता था प्रेमजाल में*

महासमुंद/ जिले के पुलिस ने एक ऐसे शातिर शख्स को गिरफ्तार किया है जो कभी पत्रकार बनकर तो कभी क्राइम ब्रांच का अधिकारी तो कभी नेता बनकर लोगों के साथ ठगी की वारदात को अंजाम देता था. यही नहीं आरोपी ने कई महिलाओं को भी अपने झांसे में लेकर उनके साथ भी शारीरिक शोषण कर चुका है. गिरफ्तार किये गए आरोपी का नाम बेन्जामिन मैथ्यूज है. रायपुर निवासी मैथ्यूज के कारनामों का भांडा तब फूटा जब एक युवती ने उसके खिलाफ पुलिस में अपनी शिकायत दर्ज कराई.


मामला बसना थाना क्षेत्र का है. पुलिस के अनुसार आरोपी ने युवती से सोशल मीडिया साइट फेसबुक के माध्यम से दोस्ती की. आरोपी ने अपने फेसबुक पेज पर साइबर एक्सपर्ट गवर्मेंट आफ इंडिया लिखकर रखा है और खुद को रायपुर क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताया करता था. आरोपी ने युवती को शादी का झांसा देकर अपने जाल में फंसा लिया और लगातार उसका शारीरिक शोषण करता रहा. इस शातिर ठग ने युवती का एटीएम कार्ड भी अपने पास रख लिया और उससे मनचाहा पैसा निकालता रहा.

 


युवती को अपने साथ धोखाधड़ी का एहसास तब हुआ जब वह उससे शादी का जिक्र करती थी. आरोपी हर बार शादी की बात को टाल जाया करता था. जिस पर युवती को और उसके परिजनों को उस पर शक हुआ और उन्होंने बेन्जामिन के बार में पता करना शुरु किया. युवती के परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई जब उन्हें पता चला कि इस नाम को कोई भी व्यक्ति पुलिस विभाग में है ही नहीं. पुलिस के अनुसार आरोपी की सच्चाई पता चलने पर युवती ने उससे बात की तो उसने उसके साथ बनाए गए अश्लील वीडियो और फोटो को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया. जिसके बाद पीड़ित युवती ने बसना थाना में शिकायत की. शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को रायपुर के माना बस्ती के धनेली गांव से गिरफ्तार किया.

 

कई महिलाओं को लिया झांसे में
पुलिस के अनुसार मूलतः केरल निवासी बैंजामिन इसी तरह और भी महिलाओं को अपने झांसे में लेकर उनका शारीरिक शोषण कर चुका है. आरोपी ने इसी तरह झूठ बोलकर तीन शादियां की है. जिसमें कि एक केरल, एक इंदौर और एक युवती से रायपुर में शादी कर चुका है. आरोपी के पास से पुलिस को विभिन्न मोबाइल कंपनियों के 25 से 30 सिमकार्ड, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव, पुलिस विभाग व अन्य विभागों के बहुत सारे फर्जी पहचान पत्र, कई समाचार पत्रों के आई कार्ड, राजनैतिक पार्टियों के भी के फर्जी कार्ड, फर्जी मैडल्स, 5 अलग-अलग बैंकों का एटीएम कार्ड, 8 अलग-अलग बैंकों के पासबुक और पुलिस वर्दी में खिंचाई हुई फोटो बरामद किया है.

 

कई राज्य के लोगों को बनाया शिकार
पुलिस पूछताछ में आरोपी ने छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, आंध्र प्रदेश, झारखंड, उत्तरप्रदेश सहित कई राज्यों में लोगों के साथ ठगी की वारदात को भी अंजाम देना कुबूल किया. पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने पुलिस, सीआईएसएफ और वन विभागों में नौकरी लगाने के नाम पर कई लोगों को अपना शिकार बनाया है और उनसे लाखों रुपये की ठगी की  है. आरोपी के खिलाफ नागपुर, हैदराबाद, आगरा, मद्रास व केरल के कई जिलों में अपराध पंजीबद्ध है.



संबधित खबरें