ख़बर का असर

ख़बर का बड़ा असर: सेवानिवृत्त तहसीलदार अपने निवास में पुराने प्रकरणों का निपटारा करने मामले में कलेक्टर ने रिटायर्ड तहसीलदार लक्ष्मण मिश्रा को नोटिस जारी करते हुए रीडर को किया निलंबित

By: प्रकाश कुमार सिन्हा 96857-01009
2019-01-10 10:17:23 AM
0
Share on: प्रकाश कुमार

महासमुंद/बसना। जिले के बसना तहसील कार्यालय में 1 जनवरी 2019 को सेवानिवृत्त तहसीलदार द्वारा पिछली तारीखों पर अपना सील मोहर का दुरुपयोग करने मामले में  जिले के तेजतर्रार कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन ने तत्वरित कार्रवाई करते हुए सेवानिवृत्त तहसीलदार लक्ष्मण मिश्रा को तीन दिवस के भीतर जवाब प्रस्तुत करने हेतु कारण बताओं नोटिस जारी किया और सेवानिवृत्त तहसीलदार को राजस्व प्रकरणों को उपलब्ध कराने मामले में रीडर लक्ष्मण बरिहा को निलंबित किया गया।

आपको बतादे की 'डीएनए वेब न्यूज़' द्वारा 1 जनवरी को "रिटायरमेंट तहसीलदार घर बैठे बैक डेट में कर रहे प्रकरणों का निपटारा... घर के सामने लग रही लोगों की भीड़, एसडीएम ने कहा नहीं कर सकते सील मोहर का उपयोग" शीर्षक से सर्वप्रथम प्रकाशन किया गया। साथ ही अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सरायपाली को जानकारी देकर जांच कराने की मांग की गई। श्री बीसी एक्का ने त्वरित कार्यवाही करने बात कहते हुए सेवानिवृत्त तहसीलदार के शासकीय निवास पहुंचकर तलाशी ली गई जिसमें कई दस्तावेज जप्त कर पंचनामा बनाकर उच्च अधिकारी को जांच प्रतिवेदन भेजा गया। 

क्या है कारण बताओ नोटिस में...

छत्तीसगढ़ शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग मंत्रालय महानदी भवन अटल नगर रायपुर के आदेश क्रमांक एफ2-132/सात-2/2015, दिनांक 1 फरवरी 2018 द्वारा दिनांक 31/12 2018 से आपको सेवानिवृत्त किया जा चुका है। लेकिन सूचना प्राप्त होने पर सेवानिवृत्ति के उपरांत भी आपके द्वारा बसना स्थित अपने शासकीय आवास में राजस्व प्रकरणों का निपटारा किया जा रहा है अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सरायपाली से जांच कराई गई।

जांच अनुक्रम में एसडीएम सरायपाली द्वारा बसना में स्थित शासकीय आवास पहुंच तहसील बसना के नायब तहसीलदार श्री बलराम तंबोली, कृष्ण कुमार चंद्राकर व तहसील पिथौरा के पवन सिंह ठाकुर नायब तहसीलदार व अन्य राजस्व निरीक्षक अमले की उपस्थिति में निवास की तलाशी ली गई।

तलाशी के दौरान विभिन्न शीर्ष के निम्नांकित कुल राजस्व प्रकरण पाए गए। जिसका पंचनामा तैयार किया गया। जिसमें से 11 पंजीकृत एवं 49 अंपजीकृत प्रकरण सम्मिलित है। इस प्रकार जांच में पंजीकृत 11 प्रकरणों में 3 प्रकरण में आदेश प्रारूप की प्रति लगी होना पाया गया सिर्फ 45 प्रकरणों में भी आदेश का टाइप सुधा प्रारूप संगलन पाया गया।


सेवानिवृत्त तहसीलदार 3 दिवस में जवाब प्रस्तुत करें - कलेक्टर

सेवानिवृत्ति के उपरांत आवास में 60 न्यायालयीन राजस्व प्रकरणों का पाया जाना तथा शीर्ष अ-02 के 48 प्रकरणों का में बिना हस्ताक्षरित आदेश के प्रारूप का पाया जाना अत्यंत आपत्तिजनक है जोकि अनियमितता की श्रेणी में आता है। अतः उपरोक्त कृत्य के लिए कारण स्पष्ट करें कि क्यों ना आप के विरुद्ध छत्तीसगढ़ सिविल सेवा पेंशन नियम के अंतर्गत कार्यवाही की जाए? अपना स्पष्टीकरण तीन दिवस के भीतर प्रस्तुत करने हेतु कलेक्टर नोटिस जारी किया।

बसना तहसील के रीडर निलंबित

5 जनवरी को तहसील कार्यालय बसना में निरीक्षण के दौरान  श्री लक्ष्मण बरिहा सहायक वर्ग 2 (वाचक) तहसील बसना के द्वारा पुराने राजस्व प्रकरणों को अवलोकन हेतु प्रस्तुत नहीं करने राजस्व प्रकरणों को अव्यवस्थित रखने तथा सेवानिवृत्त  तहसीलदार लक्ष्मण मिश्रा को सेवानिवृत्ति के उपरांत पिछली तारीख को में प्रकरणों का निपटारा किए जाने उन्हें राजस्व प्रकरण उपलब्ध करा कर्तव्यों के निर्वहन में गंभीर लापरवाही एवं अनियमितता बरती गई जो कि छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 3 के विपरीत हैं.  अतः श्री लक्ष्मण बरिहा को छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9(1)(क)  के अंतर्गत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है तथा निलंबन अवधि में मुख्यालय तहसील कार्यालय महासमुंद नियत किया जाता है निलंबन अवधि में श्री बरिहा को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।



संबधित खबरें