छत्तीसगढ़

रासेयो के छात्रों ने सात दिन तक गांव में ऐसा कार्य कर दिखाया जो वर्षो से नही हुआ, विदाई के दौरान ग्रामीणों के आँखों मे झलका...'आंसू'

By: प्रकाश सिन्हा
2018-12-31 09:59:55 AM
0
Share on: बैकुंठ दास

  • ग्रामीणो को जागरूकता और मानवता का पाठ पढ़ा दिए भूकेल के स्वयंसेवक
  • रासेयो शिविर के माध्यम से जगा रहा प्रेरणा व एकता अलख:राजा देवेंद्र बहादुर सिंह
  • रासेयो के विशेष शिविर के समापन में पहुंचे बसना विधायक श्री राजा देवेंद्र बहादुरसिंह का किया भव्य स्वागत

महासमुंद/बसना। राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भूकेल के सात दिवसीय समापन अवसर पर बसना विधायक माननीय राजा देवेंद्र बहादुर सिंह का ग्रामीणों एवं उपस्थित स्वयंसेवकों के द्वारा भव्य स्वागत किया गया। राष्ट्रीय राजमार्ग से परेड मार्च करते हुए उन्हें मंच पर लाया गया। उनके साथ विशिष्ट अतिथि के रूप में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी बसना के अध्यक्ष श्री इस्तियाक खैरानी एवं मनजीत सिंह सलूजा भी मंच पर उपस्थित हुए समापन समारोह में कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती एवं युगपुरुष स्वामी विवेकानंद के तैल चित्र पर दीप प्रज्वलन के साथ हुआ।

तत्पश्चात मुख्य अतिथि के द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना ध्वज का अवतरण किया गया राजा साहब ने मुख्य अतिथि की आसंदी से कहा कि समाज में  जागरूकता  एवं राष्ट्रीय एकता  एवं अखंडता को बनाए रखने में  राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा किए जा रहे कार्य प्रशंसनीय हैं। राष्ट्रीय सेवा योजना  अपने  राष्ट्रीय कर्तव्यों के तहत इसे जन-जन तक पहुंचाने में सफल रहा है। मैं  राष्ट्रीय सेवा योजना  इकाई को  बधाई देता हूं। कार्यक्रम अधिकारी श्री बैकुंठ दास के द्वारा सात दिवसीय विशेष शिविर के दौरान किए गए विभिन्न कार्यक्रमों, गतिविधियों, एवं परियोजना कार्यों का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया गया ।

पिछले 7 दिनों तक निरंतर मंच पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराने वाली ग्राम पौंसरा की एक गरीब और असहाय मां की 2 वर्षीय पुत्री कुमारी वर्षा एवं पुत्र सूरज को सहायक कार्यक्रम अधिकारी श्री चक्रधर सिंह पटेल की अनुशंसा पर एक एक सेट,कपड़े के साथ ही कार्यक्रम के पिछले दिनों बौद्धिक परिचर्चा में पधारे दैनिक अखबार  अमन पथ के ब्यूरो चीफ श्री देशराज दास एवं युवा पत्रकार एवं सह सचिव श्रमजीवी पत्रकार संघ बसना के श्री दीपेश मिश्रा द्वारा भी एक एक सेट कपड़े सहयोग के रूप में देने की घोषणा की गई थी, जिसे आज मुख्य अतिथि श्री राजा साहब के कर कमलों द्वारा मंच से प्रदान किया गया।

प्रतिवेदन वाचन के दौरान कार्यक्रम अधिकारी बैकुंठ दास ने बताया कि सात दिवसीय शिविर के दौरान स्वयंसेवकों ने बौद्धिक परिचर्चा में विभिन्न विषयों पर आमंत्रित प्रवक्ताओं  से श्री विवेक शर्मा जी (अध्यक्ष अखिल भारतीय गायत्री परिवार सरायपाली )श्री सिरभय सिंह चौहान, (व्याख्याता शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भंवरपुर )श्री विजय शंकर विशाल,श्री देशराज दास(ब्यूरो चीफ दैनिक अखबार अमनपथ, श्री रूपानंद सावकि इन्हें विदा करने का मन नहीं हो रहा है और हम बहुत दुखी हैं। ग्राम पंचायत की ओर से रा से यो इकाई को स्मृति चिन्ह व शामिल स्वयंसेवकों को पारितोषिक भी मुख्य अतिथि के कर कमलों से प्रदान किया गया।

साथ ही पौंसरा सहकारी सोसायटी से श्री राजेश प्रधान व अनिल के द्वारा भी स्वयंसेवकों को उपहार स्वरूप भेंट प्रदान की गई। कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए प्राचार्य श्री डीके मरावी ने स्वयंसेवकों द्वारा किए गए सामाजिक कार्य पर खुशी जताते हुए इसे संस्कार निर्माण का सशक्त माध्यम बताया। विशिष्ट अतिथि के रूप में पधारे श्री मंजीत सिंह सलूजा ने भी इसे राष्ट्रीय कर्तव्य के रूप में करते रहने की प्रेरणा बताकर निरंतरता बनाए रखने की अपील समाज एवं ग्रामीणों से की।

विशेष रूप से कार्यक्रम में श्री खेमराज पटेल (वरिष्ठ कांग्रेसी व ग्राम प्रमुख पोसरा)श्री तिहारू पटेल ,श्री अनिल अग्रवाल, श्री गोपाल पटेल, श्री उपेंद्र दाऊ (सरपंच गुढ़ियारी) श्री केशव पटेल, श्री तनवीर सईद, श्री धनेश्वर प्रधान श्री हेमसागर पटेल( ब्लॉक कांग्रेस कमिटी सरायपाली) सुशील दीवान( ग्राम प्रमुख गुढ़ियारी )श्री वासुदेव पटेल ,टिकेश्वर पटेल उपस्थित थे मंच एवं परेड का सफल संचालन श्री विजय शंकर विशाल द्वारा की गई। श्री अविनाश नायक, श्री दीपेश मिश्रा ,श्री हेमंत वैष्णव,श्री पंचराम परमार (मैनेजर कृष्णा गैस एजेंसी बसना )श्री शिव प्रसाद श्रीवास्तव( प्रमुख समाज सेवी उद्यमी एवं वक्ता) श्री रियाज मोहम्मद (ग्राम प्रमुख शिक्षाविद समाजसेवी )श्री मोहित राम कश्यप (प्रख्यात रामायणी व समाजसेवी )के अलावा श्री एल एन पटेल (प्रभारी प्राचार्य शासकीय आईटीआई सरायपाली) के साथ भाग लेकर अपने सवाल पूछ कर जिज्ञासा शांत किए।

 परियोजना कार्य के अंतर्गत आंगनबाड़ी भवन, सामाजिक मंच,चौक, नाडेप टंकियों की सफाई एवं रखरखाव कर इसे नियमित उपयोग करने हेतु ग्रामीणों को प्रोत्साहित किया। इसके अलावा सभी वार्डों की सफाई, नालियों की सफाई तालाब पचरी, मंदिर परिसर में साफ सफाई की गई बस्ती पारा डीपापारा में प्रतिदिन प्रातः प्रभात फेरी के माध्यम से जागरूकता संदेश को जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास किया गया। शाला भवन परिसर के पास स्थित स्नानागार व नाडेप टंकी के पास जमा हो रहे कचरा का निराकरण कर उसे उपयोग लायक बनाया गया। इस बीच सहयोगियों के रूप में श्री दुर्योधन पटेल शिक्षक श्री विमल किशोर वर्मा श्री भगवती साहू कुमारी पायल अग्रवाल मैडम तथा ग्राम पौंसरा से श्री नरेश जगत श्री राम लाल सावश्री सदानंद साहू, अमन प्रधान, रश्मिता साहू, ललिता प्रधान, जानकी पटेल, जल मोती, प्रवीण साहिल, लव कुमार पटेल, दल नायक गोपाल चौधरी के साथ साथ कई स्कूली बच्चों ने इस अभियान में अपने हाथ बटाए।

समापन समारोह की अध्यक्षता कर रहे श्री सिमोन नंद ने रा से यो स्वयंसेवकों द्वारा किए गए कार्यों व प्रयासों की प्रशंसा करते हुए कहा-कि जिस काम में महीनों लग जाते उसे बच्चों ने महज 7 दिन में कर दिखाया अच्छा होता कुछ दिन और रुक जाते । इन 7 दिनों में बच्चों से इतना लगाव हो गया। इसी दौरान ग्रामीणों ने नम आंखों से रासेयो के छात्र-छात्राओं की भावमिनी विदाई दी गई। 

रासेयो शिविर में क्या रहा विशेष...
1 वार्डों की मुहल्लों व नालियों की सफाई
2 नाडेप टंकियों की मरम्मत व सफाई उपयोग लायक
3 स्नानागार के आसपास के कचरे का निपटारा
4 प्रभातफेरी के माध्यम से ग्रामीणों को जगाने का प्रयास
5 सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से कलाकारों को दिया मंच
6 लोगो को चौक के पास चबूतरा निर्माण के लिए किया एकजुट करने का प्रयास
7 बौद्धिक परिचर्चा के माध्यम से विभिन्न सामाजिक दायित्वों से हुए अवगत।

इसके अलावा शिविर में कपड़े भेंटकर  मानवता का संदेश दिया। वहीं परेड मार्च कर अतिथियों का स्वागत वंदन किया गया। 



संबधित खबरें