EXCLUSIVE NEWS

रायपुर में पीलिया ने फिर दिया दस्तक... 12 से ज्यादा मरीज मिले संदिग्ध, लोगों ने उठाए 'नगर निगम' के कामकाज पर सवाल

By: हरिमोहन तिवारी/प्रकाश सिन्हा
2018-12-29 06:55:38 PM
0
Share on:

रायपुर. राजधानी रायपुर में एक बार फिर पीलिया का कहर देखने के मिला है. फाफाडीह के साहूपारा में पीलिया से 12 से ज्यादा लोगों में पीलिया के लक्षण पाए गए हैं. एक ही परिवार में 3 से ज्यादा लोग पीलिया के मरीज मिले, जिसमें एक की हालत ज्यादा बिगड़ गई है. जिसे जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है. वहीं पीलिया फैलने की शिकायत मिलते ही नगर निगम के अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है. जानकारी के मुताबिक साहू पारा में स्वास्थ्य विभाग तत्काल कैम्प लगाकर लोगों के ब्लड सैम्पल ले रहे हैं. 29 लोगों के सैम्पल लिए गए हैं. इस  दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी एसके शांडिल्य भी मौके पर मौजूद है.


शिकायत के बाद भी नहीं होता सफाई
मोहल्ले के लोगों का कहना है कि नगर निगम सही तरीके से काम नहीं कर रही है. इलाके की नालियों की सफाई नहीं हो रही, यहां तक की महीनों तक नालियां साफ नहीं होती है. नालियों से कचरा बाहर निकालने के बाद वहीं छोड़ दिया जाता है. नालियों में जो पाइप लगा है वो काफी समय से लीकेज है. इसकी 5 से ज्यादा बार नगर निगम से शिकायत किया जा चुका है, लेकिन अभी तक ठीक नहीं किया गया. पार्षद भी इसका ध्यान नहीं देता है. आज जब पीलिया फैल गया तो आनन-फानन में इसे ठीक किया जा रहा है.


नगर निगम के कामकाज पर उठाए सवाल
वहीं पीलिया से पीड़ित मरीजों का कहना है कि नगर निगम के अधिकारी इलाके में ध्यान नहीं देते हैं. जिस वजह से आज यह स्थिति हुआ है. वहीं कुछ दिन पहले मोहल्ले में एक बिल्डर द्वारा घर बनाया जा रहा था उसने सार्वजनिक नल का उपयोग करके वैसे ही छोड़ दिया. नल से पानी लगातार बहता रहता है.

अधिकारी बता रहे खान-पान को पीलिया की वजह
इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी एसके शांडिल्य का कहना है कि पीलिया का जो कारण होता है वो खान पान की वजह से होता है. ये पीलिया जो दिख रहा है उससे ऐसा लग रहा है कि दूषित पानी की वजह से पीलिया ने दस्तक दी है. उन्होंने बताया कि 29 लोगों के ब्लड सैम्पल लिए गए है. आज शाम तक रिपोर्ट आ जाएगा. अभी एक पीलिया मरीज को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. जिन्हें भर्ती करने की जरूरत पड़ रही है उसे भर्ती किया जा रहा है. शांडिल्य ने लोगों से अपील की है कि वो पानी उबालकर पीए, जिससे अभी पीलिया से बचा जा सके.



संबधित खबरें