प्रेस कॉन्फ्रेंस

भूपेश बघेल का बडा़ ब्यान सेमी फाईनल जीते हैं, फाईनल भी जीतेंगे…2019 मोदी फिनीश, निरंकुश अधिकारियों के पर होगी कार्यवाही

By: प्रकाश सिन्हा/ हरिमोहन तिवारी
2018-12-12 09:26:32 AM
0
Share on:

प्रेसवार्ता के दौरान अजीत जोगी के लिए कांग्रेस का दरवाजा हमेशा के लिए बंद- कांग्रेस

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश में जैसे ही कांग्रेस की लहर चली भक्तों के पांव तले जमीन खिसक गई हो। बतादे की कांग्रेस क्त के है बदलाव के नारे के साथ प्रदेश में चुनाव लड़ा और जनता ने शानदार जीत देकर यह नारा को साबित कर दिया कि वास्तव में प्रदेश में बदलवा की स्थिति थी। जिसके चलते कांग्रेस की सरकार बन रही हैं।

पत्रकारवार्ता के दौरान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेशाध्यक्ष भूपेश बघेल ने कहा कि प्रदेश प्रभारी पी.एल.पुनिया के मार्गदर्शन से और उनके सहयोगी साथी चंदन यादव सहित प्रदेश के सभी नेताओं को धन्यवाद देते हुए कहा कि चुनाव जीतने के लिए जो रूपरेखा तैयार की गई थी वह सफल हुआ।

प्रशिक्षण की रूप रेखा बनाई, बूथ बनाने का कार्य किया वहीं कार्यकर्ता चट्टान की तरह खड़े रहे और भाजपा के 65 प्लस को स्वीकार करते हुए नरेन्द्र मोदी, अमित शाह और प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को धुल चटाया। साथ ही उन्होंने मीडिया के लोगों को भी धन्यवाद दिया।

बघेल ने यह भी कहा कि अभी सेमी फाईनल जीते है। फाईनल भी जीतेगें 2019 मोदी सरकार फिनीश। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जो जीत कांग्रेस को मिली है वो एतिहासिक जीत हैं। जनता भी सत्ता में बैठे भाजपा सरकार को हटाना चाहती थी। लोगों में काफी उत्सुकता थी।

दारू, सिफारिश कोई लालच काम नहीं आया जनता ने अपना काम किया। जो एजेंडे हमने रखे है उस पर कामय रखते हुए कार्य करेंगें। वादे बहुत करते हैं वादों को भाजपा ने स्वीकार नहीं किया। घोषणा हमने भी किया हैं। वो पूरा करेंगें।

राहुल गांधी ने जो वादा किया कि कांगे्रस की सरकार आते ही 10 दिनों में किसानों का कर्जा माफ होगा। उसको सबसे पहले करेंगें। निर्वाचन आयोग पर कांग्रेस को भरोसा था। जोगी के मामले में उन्होंने कहा कि अजीत जोगी के लिए कांग्रेस का दरवाजा हमेशा-हमेशा के लिए बंद हो चुका। झीरम मामले में की जांच होगी।

भूपेश बघेल ने जमीनी कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए उन्होंने पत्रकारों से भी कहा जो वादा उनके लिए किया गया है उसे भी पूरा करेगें। इस बीच  बघेल ने कहा कि जो अधिकारी निरंकुश हो चुके थे, उन पर निश्चित रूप से कार्यवाही की जाएगी। बदले की राजनीति नहीं करेंगें। कानून अपना कार्य करेगा। 



संबधित खबरें