महासमुन्द

0-भंवरपुर क्षेत्र के 8 खरीदी केन्द्रों में एक दो दिन बाद खरीदी हो सकती है बंद *उठाव नहीं होने से खरीदी केन्द्रों में निर्मित हो रही है जाम की स्थिति

By: डीएनए न्यूज़ सरायपाली
2018-12-06 08:36:58 PM
0
Share on:

उठाव नहीं होने से खरीदी केन्द्रों में निर्मित हो रही है जाम की स्थिति

0-भंवरपुर क्षेत्र के 8 खरीदी केन्द्रों में एक दो दिन बाद खरीदी हो सकती है बंद-0

सरायपाली. धान खरीदी हेतु लिमिट कम किए जाने के वावजूद भी उठाव नही होने से अब धान खरीदी बंद हो सकती है. कई उपार्जन केन्द्रों में अब धान रखने के लिए जगह भी नही हैं. भंवरपुर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक अंतर्गत सभी 8 उपार्जन केन्द्रों में उठाव बंद है, जिसके चलते वहां के अधिकारी कर्मचारी भी परेशान हैं, तो वहीं किसानों को खरीदी बंद हो जाने का डर सता रहा है. 

धान खरीदी की शुरूवात इस वर्ष 1 नवंबर से हुई है जो 31 जनवरी तक होगी. वर्तमान में धान कटाई भी जोरों से चल रहा है, जिसे किसान अब बेचने के लिए बड़े पैमाने पर खरीद केन्द्रों में लाने की कोशिश कर रहे हैं. तोरेसिंहा बैंक के बेलमुण्डी खरीदी केन्द्र में बारदाना समाप्त हो जाने के कारण बुधवार से खरीदी बंद हो जाने की जानकारी सामने आ रही है. 

 

भंवरपुर उपार्जन केन्द्र में17311 क्ंिवटल में से मात्र 7049 क्विंटल उठाव हुआ है. ठूठापाली में 9686 क्विंटल में से 2540, बिछियां में 17813 में से मात्र 180 क्विंटल, लंबर में 20785 में से उठाव 3250 क्विं. हुआ है. बड़े साजापाली में 16078 में से 1360 क्विं. का उठाव हुआ. उड़ेला उपार्जन केन्द्र में 10006 क्ंिवटल धान की खरीदी हुई है जहां मात्र 2160 क्ंिवटल धान का उठाव हुआ है. इसी तरह धामनघुटुकरी में 5085 क्ंिवटल में 1080 क्विंटल का उठाव हुआ. बाराडोली में 5639 में मात्र 540 क्विंटल का ही उठाव हुआ है. 

लंबर के खरीदी प्रभारी तुलाराम चौहान से पूछे जाने पर बताया कि यहां एक दो दिन में उठाव नही होने के कारण खरीदी बंद हो जाएगी. इसी तरह बिछियां के फड़ प्रभारी रामकुमार पटेल ने बताया कि मात्र 180 क्ंिवटल एक बार ही परिवहन हुआ है. धान रखने के लिए अब जगह की कमी हो रही है. इसी तरह स्थिति बनी रही तो इसी हप्ते खरीदी बंद करनी पड़ेगी. 



संबधित खबरें