छत्तीसगढ़

पालतू पशुओं के साथ मछलियों की भी हो रही गिनती आखिरकार डेढ़ महीने देर से पशुओं की डिजिटल गिनती शुरू हो गई है।

By: डीएनए न्यूज़ छत्तीसगढ़
2018-12-01 12:09:40 PM
0
Share on:

पालतू पशुओं के साथ मछलियों की भी हो रही गिनती

रायपुर |आखिरकार डेढ़ महीने देर से पशुओं की डिजिटल गिनती शुरू हो गई है। अखिल भारतीय 20 वीं पशु संगणना में प्रगणक घर-घर..

रायपुर |आखिरकार डेढ़ महीने देर से पशुओं की डिजिटल गिनती शुरू हो गई है। अखिल भारतीय 20 वीं पशु संगणना में प्रगणक घर-घर जाकर पशुधन की नस्लवार जानकारी ले रहे हैं। वे इस बार पालतू पशुओं के साथ मछली पालन की जानकारी भी ले रहे हैं। पशु संगणना का काम तीन महीने तक चलेगा। प्रगणक द्वारा गांव में मुनादी की जा रही है। जिन घरों में उनके द्वारा पशु संगणना का कार्य किया जाएगा। वहां पशु संगणना का चिन्ह भी लगाएंगे। प्रगणक एक-एक घर जाकर पालतू पशुओं, सभी गौवंशीय, भैंसवंशीय, भेड़, बकरी, घोड़ा, गधा, सुकर, खच्चर, कुक्कुट नस्लवार जानकारी ले रहे हैं। पशु संगणना में प्रगणक मछलीपालन की जानकारी भी ले रहे हैं। उन्हें उपलब्ध कराए गए टेबलेट में ऑनलाइन जानकारी दर्ज कर रहे हैं। राज्य में डेढ़ हजार कर्मचारी विशे, तरह से बनाए गए टेबलेट पर सीधे पालतू पशुओं की जानकारी फीड कर रहे हैं। नई टेक्नालॉजी की वजह से ट्रेनिंग के बाद भी शुरूआती दौर में संगणकों को टेबलेट आपरेट करने में दिक्कतें आई हैं। प्रदेश में एक अक्टूबर से वेटेरनरी डिपार्टमेंट ने पशु संगणना का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है।



संबधित खबरें