इलेक्शन न्यूज़ अपडेट

नोडल अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र के धान खरीदी केन्द्रों की सतत मानिटरिंग करने के निर्देश कलेक्टर ने ली समय-सीमा की बैठक

By: डीएनए न्यूज़
2018-11-27 07:38:02 PM
0
Share on:

नोडल अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र के धान खरीदी केन्द्रों की सतत मानिटरिंग करने के निर्देश

कलेक्टर ने ली समय-सीमा की बैठक 

 

महासमुंद, 27 नवंबर 2018 कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री हिमशिखर गुप्ता ने आज यहां जिला कार्यालय के सभाकक्ष में समय-सीमा की बैठक लेकर समय-सीमा की पत्रों की समीक्षा की। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को शांतिपूर्ण एवं व्यवस्थित मतदान संपन्न कराने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि आगामी 11 दिसंबर 2018 को मतगणना होगी और इसके लिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि हर विधानसभा के लिए 14-14 टेबल लगाए जाएंगें। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर मतगणना कार्य में ड्यूटी लगाए जाने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों का प्रथम प्रशिक्षण 30 नवंबर को जिला पंचायत के सभाकक्ष में सुबह 11 बजे से आयोजित किया जाएगा, जिसमें सभी गणना पर्यवेक्षक, गणना सहायक और नियुक्त माईक्रो आब्जर्वर उपस्थित रहेंगे, इसमें रिटर्निंग आफिसर एवं सहायक रिटर्निंग आफिसर भी उपस्थित रहेंगे। आगामी 7 दिसंबर को मतगणना कार्य में लगे अधिकारी एवं कर्मचारियों के लिए द्वितीय प्रशिक्षण का आयोजन किया जाएगा, 10 दिसंबर को आब्जर्वर के समक्ष मतगणना का प्रशिक्षण अभ्यास एवं मार्गदर्शन दिया जाएगा।   

समय-सीमा की बैठक में बताया गया कि 11 दिसंबर को प्रातः 8 बजे से मतगणना का कार्य प्रारंभ होगी, जिसमें सबसे पहले प्रातः 8 बजे से साढ़े 8 बजे तक डाक मत पत्रों की गणना की जाएगी। साढ़े 8 बजे से ईव्हीएम मशीन से मतगणना प्रारंभ होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतगणना स्थल पर सभी प्रकार की प्रारंभिक एवं आवश्यक तैयारियां करने के लिए अधिकारियों को दायित्व एवं जिम्मेदारियां सौंपी है। उन्होंने कहा कि मतगणना परिक्षेत्र में साफ-सफाई, फायर ब्रिगेड, एम्बुलेंश की व्यवस्था कर ली जाए, हर तहसील में एक-एक मजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे। साथ ही पर्याप्त पुलिस बल व्यवस्था भी रहेगी। उन्होंने कहा कि मतगणना कार्य में लगे अधिकारी एवं कर्मचारियों को परिचय पत्र जारी किया जाएगा। इसके अलावा प्रत्याशियों मतगणना अभिकर्ता के लिए परिचय पत्र जारी किया जाएगा। 

*समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर ने जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 के लिए की जा रही धान खरीदी के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने इस कार्य के निगरानी के लिए नियुक्त सभी नोडल अधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्र के धान खरीदी केन्द्रों की सतत मानिटरिंग करते रहे, वहां की गई व्यवस्थाओं को देखे, वारदानें एवं धान खरीदी का भौतिक सत्यापन भी कराए। उन्होंने *सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे तहसीलदारों एवं नायब तहसीलदारों को धान खरीदी केन्द्र के निरीक्षण एवं वारदानें सहित खरीदे गए धान का सत्यापन करने के लिए कहा है। इसके अलावा खाद्य विभाग एवं मंडी समिति के कर्मचारी भी प्रतिदिन धान खरीदी का समीक्षा करें।* बैठक में विभिन्न आयोगों से मिले पत्रों पर चर्चा एवं समीक्षा के साथ उनके निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने राजस्व प्रकरणों के साथ-साथ फसल बीमा की भी समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मीजल्स एवं रूबेला के टीकाकरण के संबंध में उन्होंने कहा कि जो बच्चे टीकाकरण से छूट गए है, उसके लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी शिक्षा विभाग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग को स्कूलवार सूची उपलब्ध करारकर समन्वय बनाए और टीकाकरण का कार्य संपादित कराए। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री ऋतुराज रघुवंशी, अपर कलेक्टर श्री शरीफ मोहम्मद खान, संयुक्त कलेक्टर श्री शिवकुमार तिवारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी बी.एस. मरकाम सहित सभी अनुविभागीय अधिकारीगण एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।



संबधित खबरें