छत्तीसगढ़

दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के लिए केंद्रों की संख्या बढ़ेगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल दसवीं-बारहवीं की परीक्षा में बढ़ेगी केंद्रों की संख्या, स्कूलों से मांगा गया प्रस्ताव

By: डीएनए न्यूज़ छत्तीसगढ़
2018-11-27 04:36:01 PM
0
Share on:

दसवीं-बारहवीं की परीक्षा में बढ़ेगी केंद्रों की संख्या, स्कूलों से मांगा गया प्रस्ताव

दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के लिए केंद्रों की संख्या बढ़ेगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने इसके लिए...

 दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के लिए केंद्रों की संख्या बढ़ेगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने इसके लिए स्कूलों से प्रस्ताव मंगाया है। पिछली बार बोर्ड परीक्षा में जिन केंद्रों में नकल के ज्यादा मामले बने थे। उन्हें इस बार केंद्र की लिस्ट से हटाया जाएगा। 

 

सूत्रों ने बताया कि बस्तर और जांजगीर के कुछ सेंटर हटाए जा सकते हैं। क्योंकि पिछली बार यहां विवाद की स्थिति बनी थी। बस्तर के एक सेंटर पर सामूहिक नकल का मामला बना था, जिसके बाद वहां के अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर मंडल ने तीन साल का बैन लगाया। सूत्रों ने बताया कि इस केंद्र के माशिमं की लिस्ट से हटने की ज्यादा संभावना है। पिछली बार बोर्ड परीक्षा में करीब 2158 केंद्र थे। इसमें से 82 संवेदनशील और 53 अतिसंवेदनशील केंद्र थे। हालांकि, संवेदनशील और अतिसंवेदनशील के मामले में रायपुर का एक भी केंद्र नहीं था। फिर भी सुरक्षा को लेकर माशिमं से इंतजाम किए गए थे। माशिमं के अफसरों ने बताया कि आगामी बोर्ड परीक्षा के लिए प्रस्ताव मंगाए गए हैं। माशिमं व उसकी कमेटी तय करेगी कि कहां परीक्षा केंद्र होगा और कहां से हटेगा। पिछली बार के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील केंद्रों की समीक्षा की जाएगी। इसके बाद जहां ज्यादा परेशानी मिलेगी उसे लिस्ट से बाहर किया जाएगा। ग्रामीण इलाकों में परीक्षा केंद्र को लेकर ज्यादा समस्या रहती है। इसलिए इस बार इन इलाकों में केंद्रों की संख्या ज्यादा बढ़ाई जाएगी। गौरतलब है कि बोर्ड परीक्षा के तहत प्राइवेट छात्रों से आवेदन मंगाए गए हैं। 30 नवंबर तक बिना विलंब शुल्क आवेदन स्वीकार किए जाएंगे। जबकि नियमित छात्रों के आवेदन के संबंध में स्कूलों से ऑनलाइन जानकारी और फीस पहले की माशिमं को दी जा चुकी है। 

 

परीक्षा के लिए बैठक अगले माह 

 

बोर्ड परीक्षा की तारीख को लेकर माध्यमिक शिक्षा मंडल में बैठक अगले महीने होगी। परीक्षा फरवरी के आखिरी सप्ताह में होगी या फिर मार्च के पहले सप्ताह से शुरू हो सकती है। माशिमं फरवरी से परीक्षा शुरू करने के पक्ष में है। ताकि रिजल्ट 30 अप्रैल तक घोषित किए जा सके। पिछली बार पांच मार्च से बोर्ड परीक्षा शुरू हुई थी, तब 9 मई को नतीजे जारी हुए थे।



संबधित खबरें