बड़ी ख़बर

टिकट मिला तो वफाई नहीं मिला तो बेवफाई... बसना में कभी भी आ सकती है बगावत की आंधी!

By: डीएनए न्यूज़। प्रकाश सिन्हा
2018-10-30 09:05:17 AM
0
Share on:

महासुमन्द/बसना 30 अक्टूबर 2018। एक बार भाजपा तो एक बार कांग्रेस के मिथक को तोडऩे के लिए छत्तीसगढ़ में सियासी जमीन मजबूत करने में जुटी रमन सरकार का राजनीतिक खेल इस बार 'बागी' बिगाड़ सकते हैं। 
बसना के सीट पर बागी नेता इस बार परिणाम को प्रभावित कर सकते हैं। माना जा रहा है कि टिकट से वंचित बड़ी संख्या में पार्टी नेता बगावत कर सकते हैं। ऐसे में जो पार्टी बागियों को काबू में कर लेगी चुनाव में वह ज्यादा फायदे में रहेगी।
दरअसल, भाजपा से स्थानीय व्यक्ति को टिकिट नही देने से कार्यकर्ताओं में नाराजगी तो झलक रही तो दुसरी तरफ जो नेता अपनी टिकिट फाइनल समझकर जमकर पैसा खर्च किये बसना विधानसभा में में उन्हें टिकिट नहीं मिलने से मायूसी छाई हुई है। वही जानकरों की माने तो भाजपा से बगावत कर या तो दूसरी पार्टी में शामिल हो जाएगा या निर्दलीय लड़ने की बात राजनीति गलियारों में चर्चा का विषय बना हुआ है। 


बसना में कभी भी आ सकती है बगावत की आंधी 
वहीं अब बसना विधानसभा में प्रबल दावेदार द्वारा निर्दलीय चुनाव लड़ने की तैयारी की जाने की खबर मिल रही है। बसना सीट पर करीब एक दर्जन नेताओं ने टिकट की दावेदारी की थी लेकिन टिकट न मिलने के बाद कई दावेदारों में असंतोष है। पार्टी सूत्रों की माने तो एक-दो दिन के अंदर ही  विरोध देखने को मिल सकता है। माना जा रहा है कि बसना में कभी भी बगावत की आंधी आ सकती है।  भाजपा में टिकटों के वितरण को लेकर कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध जताना कोई नई बात नहीं है।  लेकिन अब देखने वाली बात होगी कि टिकट दावेदारों में पैदा हुए इस असंतोष से भाजपा को कितना नफा-नुकसान होगा।



संबधित खबरें