राजनीति

40 सालों के इतिहास में अब तक नहीं जीती BJP, अब ओपी चौधरी देंगे कांग्रेस के उमेश को टक्कर

By: डीएनए न्यूज़। छत्तीसगढ़ (रायगढ़)
2018-10-28 03:48:02 PM
0
Share on: वाट्सऐप ग्रुप

 

छत्तीसगढ़/रायगढ़ 28 अक्टूबर 2018। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ की खरसिया विधानसभा सीट कांग्रेस की गढ़ रही है। कांग्रेस केके गढ़ को ध्वस्त करने बीजेपी से पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी को मैदान में उतारा ही। जिस पर आज तक कांग्रेस के अलावा कोई भी पार्टी सेंध नहीं लगा पाई है. पिछले 40 सालों से आज तक इस सीट पर सिर्फ कांग्रेस का ही कब्जा है. न तो भाजपा और न ही अन्य कोई पार्टी इसे कभी नहीं छू पाई है. ऐसे में अब भाजपा ने इस सीट पर बड़ा दांव खेलते हुए पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी को इस सीट से विधायक पद का उम्मीद्वार बनाने का फैसला लिया है. बता दें इस सीट पर कांग्रेस नेता नंदकुमार पटेल लगातार विधायक रह चुके हैं तो वहीं 2013 के विधानसभा चुनावों में उनके बेटे ने इस सीट से चुनाव लड़ा और जीता.

खरसिया विधानसभा सीट कांग्रेस का गढ़
बता दें आपातकाल के बाद 1977 के चुनावों में बड़ी पार्टी बनकर उभरी भारतीय जनता पार्टी के आने पर भी इस सीट पर कांग्रेस का ही कब्जा रहा. वहीं छत्तीसगढ़ में 1990 में भाजपा की नींव रखने वाले लखीराम अग्रवाल भी खरसिया में बीजेपी की जीत के लिए कुछ नहीं कर पाए. वहीं राज्य के नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल का गृह क्षेत्र होने के बाद भी आज तक इस क्षेत्र में बीजेपी की जीत सुनिश्चित नहीं कर पाए.

2003 विधानसभा चुनाव नतीजे
पिछले तीन चुनावों पर नजर डालें तो इस सीट पर कांग्रेस काफी बड़े अंतर से जीतती आई है. 2003 में कांग्रेस के नंदकुमार पटेल 70,433 वोट हासिल किए तो वहीं बीजेपी के लक्ष्मी पटेल को 37,665 वोट ही मिल पाए. 

2008 विधानसभा चुनाव नतीजे
2008 में भी कांग्रेस के नंदकुमार पटेल ने ही 81,497 वोटों के साथ फिर खरसिया विधानसभा सीट को अपने नाम कियाय. वहीं बीजेपी से लक्ष्मीदेवी पटेल को 56,582 वोट ही मिल पाए. 



संबधित खबरें